-->

"15 जनवरी 2024: हिंदी में ताजगीयाँ और घटनाएं (Current Affairs in Hindi)"

15 Jan. Current Affairs In Hindi

भारत और जापान का संयुक्त तटरक्षक अभ्यास:

  • भारत और जापान के तटरक्षकों ने चेन्नई तट पर किया संयुक्त अभ्यास "सहयोग काईजीन"।
  • इस अभ्यास का 20वा संस्करण भारत और जापान के तटरक्षक बल सेना (इंडियन कोस्ट गार्ड) के बीच हुआ।

Current Affairs in Hindi

 डीआरडीओ की नई पीढ़ी की आकाश मिसाइल

  • डीआरडीओ ने उड़ीसा के चांदीपुर तट पर नई पीढ़ी की मिसाइल AKASH-NG का सफल परीक्षण किया।
  • इस सफल परीक्षण के बाद, डीआरडीओ के नए हेड समीर कामन ने कुशलता का इजहार किया।

डीआरडीओ ने ओडिशा तट से नई पीढ़ी की आकाश मिसाइल का सफल उड़ान परीक्षण किया:

परीक्षण रेंज और स्थान:

  • डीआरडीओ ने ओडिशा के तट पर स्थित एकीकृत परीक्षण रेंज (ITR), चांदीपुर से नई पीढ़ी की आकाश (AKASH-NG) मिसाइल का सफल उड़ान परीक्षण किया।

प्रकार और उच्चता:

  • इस उड़ान-परीक्षण में मिसाइल ने बहुत कम ऊंचाई पर उच्च गति वाले मानवरहित हवाई लक्ष्य को नष्ट करने की क्षमता दिखाई।

पूरी हथियार प्रणाली:

  • सफलतापूर्वक रोका गया लक्ष्य और इसे नष्ट करने के लिए मिसाइल ने स्वदेशी रूप से विकसित रेडियो फ्रीक्वेंसी सीकर, लॉन्चर, मल्टी-फ़ंक्शन रडार, और कमांड, नियंत्रण और संचार प्रणाली का सफलतापूर्वक उपयोग किया।

डेटा कैप्चर:

  • सिस्टम प्रदर्शन को आईटीआर, चांदीपुर द्वारा तैनात कई रडार, टेलीमेट्री और इलेक्ट्रो ऑप्टिकल ट्रैकिंग सिस्टम द्वारा कैप्चर किए गए डेटा के माध्यम से भी मान्य किया गया।
Akash-NG Air Defence System

रक्षा मंत्री की सराहना:

  • रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने उड़ान-परीक्षण के लिए डीआरडीओ, आईएएफ, पीएसयू, और उद्योग की सराहना की और इससे देश की वायु रक्षा क्षमताओं में वृद्धि होने की उम्मीद जताई।

महत्वपूर्ण उद्देश्यों का समर्थन:

  • रक्षा अनुसंधान एवं विकास विभाग के सचिव और डीआरडीओ के अध्यक्ष डॉ. समीर वी कामत ने भी उड़ान-परीक्षण से जुड़ी टीमों को बधाई दी।

गेंदबाज टिम साउदी का नया रिकॉर्ड:

  • न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज टिम साउदी ने T20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 150 विकेट लेने में सफलता प्राप्त की।

ताइवान का राष्ट्रपति चयन:

  • ताइवान ने सत्तारुढी डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी की उम्मीदवार लाइ चिंग को राष्ट्रपति बनाया।

संवीता कंसवाल को साहसिक पुरस्कार:

  • प्रसिद्ध भारतीय महिला पर्वतारोही संवीता कंसवाल को तेनजिंग नोर्गे राष्ट्रीय साहसिक पुरस्कार 2022 मिला।

सविता कंसवाल को मरणोपरांत तेनजिंग नोर्गे नेशनल एडवेंचर अवार्ड:

अवार्ड:

  • सविता कंसवाल को मरणोपरांत तेनजिंग नोर्गे नेशनल एडवेंचर अवार्ड से नवाजा गया है।

साहसिक पर्वतारोही:

  • सविता कंसवाल एक साहसिक पर्वतारोही थीं जिन्होंने ने माउंट एवरेस्ट और माउंट मकालू पर चढ़कर इतिहास रचा था।

पहली महिला:

  • वह भारत की पहली महिला थीं जो माउंट एवरेस्ट और माउंट मकालू पर सफलतापूर्वक चढ़ीं थीं।

गौरवपूर्ण क्षण:

  • उनके उपारोहण ने भारत को गर्वित किया और उन्हें अपने देश में एक गौरवपूर्ण स्थान पर ले आया।

माता-पिता की भावुकता:

  • सविता कंसवाल के मरण पर माता कमलेश्वरी देवी और पिता को अपनी बेटी के उपलब्धि पर भावुक होने का समय मिला। उनके पिता और माता की आंखों में आंसू भर गए थे।

उनकी उपलब्धियां:

  • सविता कंसवाल ने माउंट एवरेस्ट और माउंट मकालू को सफलतापूर्वक चढ़ाई और उनकी उपलब्धियों के लिए उन्हें अनेक सम्मान और पुरस्कार मिले।

नमनीय कदम:

  • उन्हें इस अवार्ड से नवाजा जाना एक नमनीय कदम है, जो उनके साहस और परिश्रम को मानते हुए लिया गया है।

उनकी श्रद्धांजलि:

  • सविता कंसवाल के मरण पर उन्हें एक बड़ी श्रद्धांजलि।

दुबई में आयोजित आयुष सम्मेलन:

  • दुबई के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर में आयोजित हुआ दूसरा अंतरराष्ट्रीय आयुष सम्मेलन।

दूसरा अंतर्राष्ट्रीय आयुष सम्मेलन और प्रदर्शनी:

आयोजन:

  • दूसरा अंतर्राष्ट्रीय आयुष सम्मेलन और प्रदर्शनी दुबई के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर में आयोजित हुआ है।
  • इसका आयोजन विज्ञान भारत मंच और आयुष मंत्रालय ने किया है।

आयोजन की अवधि:

  • तीन दिनों तक का यह आयोजन 15 जनवरी तक चलेगा।

मुख्य विषय:

  • आयुष-आयुर्वेद, योग, यूनानी, सिद्ध, और होम्योपैथी चिकित्सा पद्धति को विश्वसनीय स्वास्थ्य देखभाल प्रणाली के रूप में प्रस्तुत करेगा।

मुख्य विषय-वस्तु:

  • सम्‍मेलन का मुख्‍य विषय-वस्‍तु गैर संचारी गंभीर रोग-आयुष के माध्‍यम से बचाव और प्रबंधन है।

अंतर्राष्ट्रीय भागीदारी:

  • आयोजन में भारत, मध्‍यपूर्व, सुदूरपूर्व, अफ्रीका, यूरोप, ऑस्‍ट्रेलिया, और अमरीका से एक हजार पांच सौ से अधिक विशेषज्ञ भाग ले रहे हैं।

विभिन्न विषयों पर परिचर्चा:

  • सम्‍मेलन में 50 परिचर्चा होंगी और तीन सौ शोध-पत्र रखे जाएंगे।

वैश्विक प्रतिनिधि:

  • आयोजन में एक हजार तीन सौ वैश्विक प्रतिनिधि शामिल होंगे।

राज्यमंत्री की बातें:

  • विदेश राज्यमंत्री वी. मुरलीधरन ने बताया कि गैर संचारी रोगों से प्रति वर्ष चार करोड़ 10 लाख से अधिक लोगों की मृत्‍यु होती है।

भारतीय आयुष पद्धतियां:

  • भारतीय आयुष पद्धतियों को कोविड के पश्चात अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मान्यता और लोकप्रियता मिली है।

निवेश और रोजगार:

  • विदेश राज्यमंत्री ने बताया कि भारत में स्वास्थ्य सेवाओं का केंद्र बनने की क्षमता है और यह निवेश आकर्षित कर रहा है तथा रोजगार के अवसर उत्पन्न हो रहे हैं।

हरियाणा का 'मिशन 60000':

  • हरियाणा सरकार ने युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए 'मिशन 60000' की शुरुआत की।

मध्य प्रदेश का समग्र चैंपियन:

  • पहले मल्टी स्पोर्ट्स बीच गेम्स में मध्य प्रदेश ने समग्र चैंपियन बना।

दीव में आयोजित बीच गेम्स: मध्य प्रदेश समग्र चैंपियन बना

इतिहास रचा:

  • दीव में आयोजित बीच गेम्स में, मध्य प्रदेश ने पहली बार समग्र चैंपियन बनने का गर्व अनुभव किया।

उद्घाटन समारोह:

  • राज्य को मिले चैंपियन की गर्वग्रंथ, दीव के प्राचीन नीले ध्वज के साथ घोघला बीच में आयोजित उद्घाटन समारोह में प्रमाणित किया गया।

प्रतियोगिता, जो 4-11 जनवरी तक चली, में 28 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 1404 युवा एथलीटों ने विभिन्न विषयों में भाग लिया।

पदकों का हासिल:

  • मध्य प्रदेश ने कुल 18 पदक हासिल किए, जिनमें से 7 स्वर्ण पदक शामिल थे, जो उसकी प्रतिभा को प्रमोट करते हैं।

राज्यों की प्रदर्शनी:

  • महाराष्ट्र ने 3 स्वर्ण सहित 14 पदक जीते, जबकि तमिलनाडु, उत्तराखंड और मेजबान दादरा, नगर हवेली, दीव और दमन ने 12-12 पदक हासिल किए। विशेष रूप से, असम ने प्रभावशाली 5 स्वर्ण के साथ 8 पदक हासिल किए।

लक्षद्वीप की जीत:

  • रोमांचक घटनाओं में से एक में, लक्षद्वीप ने बीच सॉकर में स्वर्ण पदक हासिल कर इतिहास रचा।

खेलों की विविधता:

  • बॉक्सिंग से लेकर समुद्री तैराकी और बीच वॉलीबॉल तक, खेलों की विविधता ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध किय

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दीव को समुद्र तट खेलों के आयोजन के लिए सराहना की  ।
जलवायु सम्मेलन 2024:

  • पर्यावरण वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने मुंबई में आयोजित किया जलवायु सम्मेलन 2024 (Climate Summit 2024)।

क्लाइमेट चेंज परफॉर्मेंस इंडेक्स:

  • भारत का क्लाइमेट चेंज परफॉर्मेंस इंडेक्स में सातवां स्थान है, और चौथा स्थान डेनमार्क का है।

जलवायु परिवर्तन प्रदर्शन सूचकांक (CCPI) 2023:

भारत की स्थिति:

  • 7वें स्थान पर है जर्मनी 14 वे स्थान पर है।

मुख्य श्रेणियाँ:

  1. जलवायु नीति: 10वें स्थान पर
  2. नवीकरणीय ऊर्जा: 37वें स्थान पर

विशेषज्ञता:

  • नवीकरणीय ऊर्जा में मध्यम दर्जे का प्रदर्शन
नोट: शीर्ष तीन स्थान खाली हैं, जिससे इस सूचकांक की महत्वपूर्णता बढ़ती है और चौथा स्थान डेनमार्क का है।

रिपोर्ट जारी करने वाला: CCPI

भारत का पहला राष्ट्रीय राजमार्ग स्टील स्लेग रोड खंड:

  • NH-66 मुंबई गोवा राष्ट्रीय राजमार्ग पर भारत का पहला राष्ट्रीय राजमार्ग स्टील स्लेग रोड खंड का उद्घाटन किया गया।

इंडियन कोस्ट गार्ड का इतिहास:

  • इंडियन कोस्ट गार्ड की स्थापना 1 फरवरी 1977 में 1978 एक्ट के तहत हुई।
  • इंडियन कोस्ट गार्ड के हेड राकेश पौल है।

भारत-मालदीव एकथा अभ्यास - तथ्य:

आयोजन स्थान:

  • मालदीव

संस्करण:

  • छठा संस्करण
संगठन:
  • भारतीय नौसेना के गोताखोरों और समुद्री कमांडो तथा मालदीव राष्ट्रीय रक्षा बल (MNDF)

आयोजन की तिथि:

  • अक्टूबर 2022

उद्देश्य:

  • डाइविंग और स्पेशल ऑपरेशंस में इंटरऑपरेबिलिटी को बढ़ावा देना

पिछले संस्करण:

  • एकथा अभ्यास का 5वां संस्करण भी मालदीव में आयोजित किया गया था

व्यायाम काज़िंद-2023: संयुक्त सैन्य अभ्यास

संयुक्त राष्ट्र के आदेश के तहत आतंकवाद विरोधी अभियानों में इंटरऑपरेबिलिटी को बढ़ाने के लिए, व्यायाम काज़िंद-2023, सातवां संस्करण, आयोजित हो रहा है।

मुख्य विवरण:

संस्करण:

  • 7वें संस्करण

महत्व:

  • संयुक्त राष्ट्र के आदेश के तहत आतंकवाद विरोधी अभियानों के संचालन में इंटरऑपरेबिलिटी को बढ़ाना

स्थान:

  • ओटार, कजाकिस्तान

समय:

  • 30 अक्टूबर से 11 नवंबर 2023

भागीदारी:

  • भारतीय सेना और भारतीय वायु सेना की टुकड़ी के 120 जवान , कजाख ग्राउंड फोर्सेज

उद्देश्य:

  • सामरिक अभ्यासों, छापेमारी, खोज और विनाश संचालन, छोटी टीम प्रविष्टि, निष्कर्षण संचालन, और काउंटर मानव रहित हवाई प्रणाली संचालन में इंटरऑपरेबिलिटी को सुनिश्चित करना

इतिहास:

  • एक्सरसाइज प्रबल दोस्तिक' (2016) के रूप में शुरू, 'एक्सरसाइज काजिंद' में उन्नत

संबंध:

  • भारत और कजाकिस्तान के बीच रक्षा सहयोग और समन्वय को बढ़ावा

चक्रवातअभ्यास :

  •  हाल ही में भारतीय नौसेना ने चक्रवात अभ्यास गोवा में आयोजित किया है

     एकुवेरिन संयुक्त सैन्य अभ्यास - तथ्य

महत्व:

  • संयुक्त राष्ट्र के कहे अनुसार काउंटर इंसर्जेंसी/आतंकवाद विरोधी ऑपरेशंस में इंटरऑपरेबिलिटी बढ़ाना, संयुक्त मानवीय सहायता और आपदा राहत कार्यों को अंजाम देना

स्थान:

  • चौबटिया, उत्तराखंड

संस्करण:

  • 12वें संस्करण

समय:

  • 11 से 24 जून 2023

संगठन:

  • भारतीय सेना और मालदीव राष्ट्रीय रक्षा बल

उद्देश्य:

  • रक्षा सहयोग, संयुक्त अभ्यास, सामरिक स्तर पर समन्वय और सहयोग बढ़ाना

अंतिम संस्करण:

  • 11वां संस्करण दिसंबर 2021 में मालदीव में आयोजित किया गया था

भागीदारी:

  • भारतीय सेना और मालदीव राष्ट्रीय रक्षा बल की एक पलटन

सहायता क्षेत्र:

  • रक्षा सहयोग, संयुक्त अभ्यास, रक्षा प्रशिक्षण, और उपकरण आवश्यकताओं में मालदीव की सहायता

चक्रवात- 1 अभ्यास :

एक्सरसाइज साइक्लोन-I: भारत-मिस्र संयुक्त प्रशिक्षण अभ्यास

संस्करण: पहला संस्करण

महत्व:

  •  भारतीय और मिस्र सेना के बीच रक्षा सहयोग मजबूत करना, रेगिस्तानी इलाके में संचालनी बलों के पेशेवर कौशल और अंतरसंचालनीयता साझा करना

स्थान: जैसलमेर, राजस्थान

समय: 14 जनवरी 2023 से

भागीदारी:

  • भारतीय सेना और मिस्र सेना के विशेष बल

उद्देश्य:

  • स्निपिंग, कॉम्बैट फ्री फ़ॉल, टोही, निगरानी और लक्ष्य पदनाम, हथियारों, उपकरणों, नवाचारों, रणनीति पर जानकारी साझा करना, संयुक्त युद्ध व्यवस्था में संचालन कौशल, सर्जिकल हमलों में भाग लेना

संबंध:

  • भारत और मिस्र के बीच सेना सहयोग और अंतरसंचालनीयता में सुधार

समर मिसाइल :

SAMAR वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली:

1. परिचालन:

  • SAMAR (Surface to Air Missile for Aerial Targets) वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली है।
  • यह विम्पेल R-73E अवरक्त-निर्देशित हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइलों से सुसज्जित है।

2. परीक्षण:

  • सुधारित प्रदर्शनी की प्राप्ति के लिए, SAMAR प्रणाली ने यूएवी, हेलीकॉप्टर, और लड़ाकू जेट सहित निम्न-स्तरीय उड़ान वाले हवाई लक्ष्यों के खिलाफ 12 किमी की रेंज के साथ परीक्षण किया है।

3. गति सीमा:

  • SAMAR प्रणाली 2 से 2.5 मैक की गति सीमा पर चलने वाली मिसाइलों के साथ हवाई खतरों का सामना कर सकती है।

4. लॉन्च प्लेटफॉर्म:

  • सिस्टम एक ट्विन बुर्ज लॉन्च प्लेटफॉर्म से लैस है, जो खतरे के परिदृश्य के आधार पर सिंगल और सैल्वो मोड में दो मिसाइलों को लॉन्च करने की क्षमता प्रदान करता है।

5. फायरिंग परीक्षण:

  • भारतीय वायुसेना ने वायु सेना स्टेशन सूर्यलंका में अस्त्रशक्ति-2023 अभ्यास के दौरान SAMAR वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली का सफल फायरिंग परीक्षण किया है।

6. उद्देश्य:

  • वायुमंडल में उड़ते हवाई लक्ष्यों को नष्ट करना।

7. उपयोग:

  • सुरक्षा और रक्षा के क्षेत्र में वायु रक्षा के लिए डिज़ाइन किया गया है।

SAMAR वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली के सफल परीक्षण से यह सिद्ध होता है कि यह अद्वितीय क्षमताओं और प्रदर्शन के साथ वायु सुरक्षा को मजबूत करने के लिए तैयार है।

SANT मिसाइल :

स्वदेशी स्टैंड-ऑफ एंटी-टैंक मिसाइल (SANT) परीक्षण:

1. परीक्षण:

  • रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) और भारतीय वायु सेना (IAF) ने स्वदेशी रूप से डिजाइन और विकसित हेलीकॉप्टर लॉन्च किए गए स्टैंड-ऑफ एंटी-टैंक (SANT) मिसाइल का उड़ान परीक्षण किया।

2. उद्देश्य:

  • स्वदेशी रक्षा क्षमताओं को और बढ़ावा देना।
  • भारतीय वायुसेना के शस्त्रागार को मजबूत करना।

3. विशेषताएं:

  • रिलीज तंत्र, उन्नत मार्गदर्शन और ट्रैकिंग एल्गोरिदम के साथ सभी एवियोनिक्स ने संतोषजनक प्रदर्शन किया।
  • स्मार्ट एंटी एयरफील्ड हथियार की श्रृंखला में तीसरा हथियार है।

4. विकास:

  • SANT मिसाइल को रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) द्वारा भारतीय वायुसेना के सहयोग से डिजाइन और विकसित किया गया है।

5. टेक्नोलॉजी:

  • उन्नत प्रौद्योगिकियों के साथ विभिन्न अनुप्रयोगों के लिए विभिन्न विन्यासों का स्वदेशी विकास।

6. सुरक्षा सीमा:

  • हथियार 10 किलोमीटर तक की रेंज में लक्ष्य को निष्क्रिय कर सकता है।

7. प्रमुख उद्देश्य:

  • रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने मिशन से जुड़ी टीम को बधाई दी।

अस्त्र मिसाइल :

ASTRA मिसाइल प्रणाली:

श्रेणी और उद्देश्य:

  • ASTRA एक बियॉन्ड विजुअल रेंज (BVR) श्रेणी की हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइल (AAM) है।
  • इसे लड़ाकू विमानों को नष्ट करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

विमानों के लिए डिज़ाइन:

  • ASTRA मिसाइल को सुपरसोनिक विमानों को शामिल करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

क्षमता:

  • यह मिसाइल हर मौसम में दिन और रात में युद्ध क्षमता रखती है।

संयुक्त प्रयोग:

  • SU-30 Mk-I विमान के साथ एकीकृत ASTRA Mk-I हथियार प्रणाली को भारतीय वायु सेना (IAF) में शामिल किया जा रहा है।

अन्य विवरण:

  • ASTRA मिसाइल को अत्यधिक युद्धाभ्यास वाले सुपरसोनिक विमानों को नष्ट करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

सुरक्षा और जानकारी:

  • भारतीय वायु सेना (IAF) ने ASTRA Mk-I हथियार प्रणाली को अपनी वायुसेना में शामिल करने का निर्णय लिया है।

विकास:

  • ASTRA मिसाइल भारतीय वायुसेना के आवश्यकताओं और युद्ध स्थितियों के साथ बाजार में आने के लिए विकसित की जा रही है।
CURRENT AFFAIRS QUESTIONS AND ANSWERS
 
1 AKASH-NG मिसाइल का सफल परीक्षण किस राज्य में हुआ?

a. राजस्थान

b. ओडिशा

c. गुजरात

d. महाराष्ट्र

2 AKASH-NG में 'NG' का क्या मतलब है?
 
a. नया जीनरेशन
 
b. नव गामा
 
c. न्यू जेनेटिक्स
 
d. नेवीगेशन

3 AKASH-NG मिसाइल परीक्षण के बाद, कौन सी नई सुधारी गई सुरक्षा प्रणाली का उपयोग किया गया?
 
a. रेडियो फ्रीक्वेंसी सीकर
 
b. इलेक्ट्रॉनिक लॉन्चर
 
c.मल्टीफंक्शन रडार
 
d. सभी।
 
4. चेन्नई तट पर किये गए यह संयुक्त अभ्यास काईजीन का उद्देश्य क्या था?

a. वनस्पति और वन्यजन संरक्षण

b. तट सुरक्षा और सहयोग

c. अंतर्राष्ट्रीय व्यापार बढ़ाना

d. वैज्ञानिक और सांस्कृतिक विनिमय

5. इस संयुक्त अभ्यास का कितना संस्करण है?

a. 15वा

b. 18वा

c. 20वा

d. 22वा

6. कौन-कौन सी सेना इस अभ्यास में शामिल थी?

a.रुसी सेना

b. फ़्रांस सेना

c. तटरक्षक बल सेना (कोस्ट गार्ड)

d. सभी उपरोक्त
 
7. किस क्रिकेटर ने T20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 150 विकेट लेने में सफलता प्राप्त की है?

a. रोहित शर्मा

b. टिम साउदी

c. विराट कोहली

d. रविचंद्रन अश्विन

8. आयुष सम्मेलन का मुख्य विषय-वस्तु क्या है?

a. योग आचार्या

b. आयुर्वेद मिशन

c. गैर संचारी रोगों का बचाव और प्रबंधन

d. प्राकृतिक चिकित्सा पद्धतियां

9. आयुष सम्मेलन में कितने विशेषज्ञ भाग ले रहे हैं?

a. 500

b. 800

c. 1000

d. 1500


10. आयुष सम्मेलन में कितनी परिचर्चाएं होंगी?

a. 25

b. 50

c. 75

d. 100
 
11 आयुष सम्मेलन का आयोजन किसने किया है?

a. आयुष मंत्रालय

b. विज्ञान भारत मंच

c. विदेश मंत्रालय

d. A व B


12. आयुष में निवेश के संदर्भ में किसने बात की है?

a. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

b. विदेश राज्यमंत्री वी. मुरलीधरन

c. स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन

d. आयुष मंत्री कैलाश चौधरी